One Arranged Murder in Hindi

 

One Arranged Murder in Hindi

वन अरेंजर्ड मर्डर 



मशहूर लेखक चेतन भगत (Chetan Bhagat) हाल ही में उन्होंने अपनी नई बुक वन अरेंजर्ड मर्डर (One Arranged Murder) पुस्तक का हिंदी संस्करण 15 फरवरी 2021 को उपलब्ध कराया जा रहा है। इसका अंग्रेज़ी  संस्करण का  विमोचन 28 सितंबर, 2020 को किया गया था । यह उपन्यास एक अरेंज मैरिज की पृष्ठभूमि में एक मर्डर मिस्ट्री का चित्रण करती है। पुस्तक वेस्टलैंड पब्लिकेशन लिमिटेड द्वारा प्रकाशित की जाएगी। पुस्तक में न केवल गहन सस्पेंस हैबल्कि हास्यप्रेम और भरोसेमंद भारतीय चरित्र भी हैं।  यह लेखक की 9वीं नावेल और कुल मिलाकर 11 वीं पुस्तक है। इससे पहले उनकी पुस्तक 'द गर्ल इन रूम 105' (The Girl in Room 105) थी।

चेतन भगत (Chetan Bhagat)  ग्यारह (11) ब्लॉकबस्टर पुस्तकों के लेखक हैं। इनमें आठ नॉवेल  फाइव प्वाइंट समवन (2004)वन नाइट @ द कॉल सेंटर (2005) द 3 मिस्टेक्स ऑफ माय लाइफ़ (2008)2 स्टेट्स (2009)रिवॉल्यूशन 2020 (2011)हाफ गर्लफ्रेंड (2014)वन इंडियन गर्ल (2016) और द गर्ल इन रूम 105 (2018), तथा व्हाट यंग इंडिया वांट्स (2012)मेकिंग इंडिया ऑसम (2015) और इंडिया पॉजिटिव (2019) जैसी नॉन-फिक्शन पुस्तकें शामिल हैं। बॉलीवुड की कई हिट फ़िल्में चेतन भगत (Chetan Bhagat)  के  नॉवेल पर आधारित हैं।

Title : वन अरेंजर्ड मर्डर (One Arranged Murder)

Author : चेतन भगत (Chetan Bhagat)

ISBN  : 978-1542030328

Publisher: Westland Publications Limited

 Order Online –  Buy it from Amazon



Uff Kolkata । उफ़्फ़ कोलकाता

 

Uff Kolkata । उफ़्फ़ कोलकाता



सत्य व्यास की नयी किताब और पाँचवाँ उपन्यास ‘उफ़्फ़ कोलकाता’ (Uff Kolkata) हिंदी भाषा की पहली हॉरर कॉमेडी कही जा सकती है। इस लिहाज़ से यह एक पहल भी है। कोलकाता के बाहरी भाग में फैले एक विश्वविद्यालय का हॉस्टल, उपन्यास के मुख्य किरदारों की ग़लती से अभिशप्त हो जाता है। एक आत्मा जो अब हॉस्टल में है, बच्चों को परेशान करती है पर मारती नहीं। इन्हीं पसोपेश, डर, बचने के इंतज़ामात से जो हास्य उत्पन्न होता है, वही इस कहानी का मूल है। कहानी ख़त्म होते-होते हतप्रभ कर देने वाला मोड़ लेती है, जिसके लिए आप सत्य व्यास और उनकी कहानियों को जानते हैं।

            सत्य व्यास की इससे पहले प्रकाशित चारों किताबें—‘बनारस टॉकीज’, ‘दिल्ली दरबार’, ‘चौरासी’ और ‘बाग़ी बलिया’ रही हैं। इन चारों किताबों पर फ़िल्में तथा वेब सीरीज़ निर्माणाधीन हैं। यह सत्य व्यास का पाँचवाँ उपन्यास है।

पुस्तक: उफ़्फ़ कोलकाता (Uff Kolkata)
लेखक: 
सत्य व्यास (Satya Vyas)
प्रकाशक: Hind Yugm
आई एस बी एन (ISBN)- 978-8194653837
Order Online – Buy it from Amazon


Bibliophile Alert

 Bibliophile Alert

पुस्तक प्रेमियों के लिए अमेजिंग वेबसाइट जो बेच रही है सेकंड हैंड बुक्स को कम कीमत में !


क्या आप एक पुस्तक प्रेमी (Bibliophile) हैं, क्या आप उन पागल आत्माओं में से एक हैं जो कहीं भी जाते हैं, एक किताब लाते हैं। जो शहर की हर किताब को पढ़ना चाहते है, तो आपके लिए बहुत सी समस्याएं हैं, जिसमे सबसे बड़ी समस्या है, अपनी प्रिय पुस्तकों पर खर्च होने वाली भारी रकम । पुस्तक प्रेमी (Bibliophile) के पुस्तकों पर होने वाले खर्च को काम करने सहायक के https://www.startergroup.in/ वेबसाइट जो पहुचाती है, पुस्तक प्रेमी (Bibliophile) के पास पुरानी और सेकंड हैंड बुक्स को कम कीमत में !

Bhagat Singh Quotes in Hindi

 


Bhagat Singh Quotes in Hindi


“जिंदगी तो सिर्फ अपने कंधों पर जी जाती हैदूसरों के कंधे पर तो सिर्फ जनाजे उठाए जाते हैं।“

- भगत सिंह

“मेरा धर्म देश की सेवा करना है।

- भगत सिंह

“प्रेमीपागल और कवि एक ही चीज से बने होते हैं।“ 

 - भगत सिंह

“देशभक्तों को अक्सर लोग पागल कहते हैं।“ 

- भगत सिंह


“सूर्य विश्व में हर किसी देश पर उज्ज्वल हो कर गुजरता है परन्तु उस समय ऐसा कोई देश नहीं होगा जो भारत देश के सामान इतना स्वतंत्रइतना खुशहालइतना प्यारा हो।

- भगत सिंह

 

“यह एक काल्पनिक आदर्श है कि आप किसी भी कीमत पर अपने बल का प्रयोग नहीं करतेनया आन्दोलन जो हमारे देश में आरम्भ हुआ है और जिसकी शुरुवात की हम चेतावनी दे चुके हैं वह गुरुगोविंद सिंह और शिवाजी महाराजकमल पाशा और राजा खानवाशिंगटन और गैरीबाल्डीलाफयेत्टे और लेनिन के आदर्शों से प्रेरित है।

- भगत सिंह

 

राख का हर एक कण मेरी गर्मी से गतिमान है। मैं एक ऐसा पागल हूं जो जेल में भी आजाद है।“ 

- भगत सिंह

 

“यदि बहरों को सुनना है तो आवाज़ को बहुत जोरदार होना होगा। जब हमने बम गिराया तो हमारा धेय्य किसी को मारना नहीं थ। हमने अंग्रेजी हुकूमत पर बम गिराया था । अंग्रेजों को भारत छोड़ना चाहिए और उसे आज़ाद करना चहिये।

- भगत सिंह

 

किसी को ‘क्रांति’ शब्द की व्याख्या शाब्दिक अर्थ में नहीं करनी चाहिए। जो लोग इस शब्द का उपयोग या दुरूपयोग करते हैं उनके फायदे के हिसाब से इसे अलग अलग अर्थ और अभिप्राय दिए जाते हैं।

- भगत सिंह

 

कोई भी व्यक्ति जो जीवन में आगे बढ़ने के लिए तैयार खड़ा हो उसे हर एक रूढ़िवादी चीज की आलोचना करनी होगीउसमे अविश्वास करना होगा और चुनौती भी देना होगा।

 - भगत सिंह

 

किसी भी इंसान को मारना आसान हैपरन्तु उसके विचारों को नहीं। महान साम्राज्य टूट जाते हैंतबाह हो जाते हैंजबकि उनके विचार बच जाते हैं।

- भगत सिंह

 

जरूरी नहीं था कि क्रांति में अभिशप्त संघर्ष शामिल हो। यह बम और पिस्तौल का पंथ नहीं था।“ 

- भगत सिंह

 

आम तौर पर लोग जैसी चीजें हैं उसके आदी हो जाते हैं और बदलाव के विचार से ही कांपने लगते हैं। हमें इसी निष्क्रियता की भावना को क्रांतिकारी भावना से बदलने की जरूरत है।

- भगत सिंह

 

जो व्यक्ति विकास के लिए खड़ा है उसे हर एक रूढ़िवादी चीज की आलोचना करनी होगीउसमें अविश्वास करना होगा तथा उसे चुनौती देनी होगी।“ 

- भगत सिंह

 

 “मैं इस बात पर जोर देता हूँ कि मैं महत्त्वाकांक्षाआशा और जीवन के प्रति आकर्षण से भरा हुआ हूँ। पर मैं ज़रुरत पड़ने पर ये सब त्याग सकता हूँऔर वही सच्चा बलिदान है।

- भगत सिंह

 

अहिंसा को आत्म-बल के सिद्धांत का समर्थन प्राप्त है जिसमे अंतत: प्रतिद्वंदी पर जीत की आशा में कष्ट सहा जाता है । लेकिन तब क्या हो जब ये प्रयास अपना लक्ष्य प्राप्त करने में असफल हो जाएंतभी हमें आत्म -बल को शारीरिक बल से जोड़ने की ज़रुरत पड़ती है ताकि हम अत्याचारी और क्रूर दुश्मन के रहमोकरम पर ना निर्भर करें ।

- भगत सिंह

किसी भी कीमत पर बल का प्रयोग ना करना काल्पनिक आदर्श है और नया आन्दोलन जो देश में शुरू हुआ है और जिसके आरम्भ की हम चेतावनी दे चुके हैं वो गुरु गोबिंद सिंह और शिवाजीकमाल पाशा और राजा खान , वाशिंगटन और गैरीबाल्डी , लाफायेतटे और लेनिन के आदर्शों से प्रेरित है।

- भगत सिंह

 

इंसान तभी कुछ करता है जब वो अपने काम के औचित्य को लेकर सुनिश्चित होता हैजैसाकि हम विधान सभा में बम फेंकने को लेकर थे।

- भगत सिंह

 

व्यक्तियो को कुचल करवे विचारों को नहीं मार सकते।

- भगत सिंह

 

क़ानून की पवित्रता तभी तक बनी रह सकती है जब तक की वो लोगों की इच्छा की अभिव्यक्ति करे।

- भगत सिंह

 

 क्रांति मानव जाती का एक अपरिहार्य अधिकार है। स्वतंत्रता सभी का एक कभी न ख़त्म होने वाला जन्म-सिद्ध अधिकार है। श्रम समाज का वास्तविक निर्वाहक है।

- भगत सिंह

 

निष्ठुर आलोचना और स्वतंत्र विचार ये क्रांतिकारी सोच के दो अहम् लक्षण हैं।

- भगत सिंह

 

 “मैं एक मानव हूँ और जो कुछ भी मानवता को प्रभावित करता है उससे मुझे मतलब है।"

- भगत सिंह

 

 किसी ने सच ही कहा हैसुधार बूढ़े आदमी नहीं कर सकते । ते तो बहुत ही बुद्धिमान और समझदार होते हैं । सुधार तो होते हैं युवकों के परिश्रमसाहसबलिदान और निष्ठा सेजिनको भयभीत होना आता ही नहीं और जो विचार कम और अनुभव अधिक करते हैं ।

- भगत सिंह

  

हमारा लक्ष्य शासन शक्ति को उन हाथों के सुपुर्द करना हैजिनका लक्ष्य समाजवाद होइसके लिए मजदूरों और किसानों को संगठित करना आवश्यक होगाक्योंकि उन लोगों के लिए लॉर्ड रीडिंग या इर्विन की जगह तेजबहादुर या पुरुषोत्तम दासठाकुर दास के उग जाने से कोई भारी फर्क न पड़ सकेगा ।

- भगत सिंह

 

यदि हमारे नौजवान इसी प्रकार प्रयत्न करते जाएंगेतब जाकर एक साल में स्वराज्य तो नहींकिंतु भारी कुर्बानी और त्याग की कठिन परीक्षा में से गुजरने के बाद वे अवश्य विजयी होंगे । क्रांति चिरंजीवी हो ।

- भगत सिंह

 

जिंदा रहने की ख्वाहिश कुदरती तौर पर मुझमें भी होनी चाहिए । मैं इसे छिपाना नहीं चाहतालेकिन मेरा जिंदा रहना एक शर्त पर है । मैं कैद होकर या पाबंद होकर जिंदा रहना नहीं चाहता ।

- भगत सिंह

वन अरेंजर्ड मर्डर (One Arranged Murder)


 

वन अरेंजर्ड मर्डर (One Arranged Murder)

 

मशहूर लेखक चेतन भगत (Chetan Bhagat) हाल ही में उन्होंने अपनी नई बुक वन अरेंजर्ड मर्डर (One Arranged Murder) पुस्तक का विमोचन 28 सितंबर, 2020 को किया जाएगा। फिक्शन बुक एक अरेंज मैरिज की पृष्ठभूमि में एक मर्डर मिस्ट्री का चित्रण करती है। पुस्तक वेस्टलैंड पब्लिकेशन लिमिटेड द्वारा प्रकाशित की जाएगी। पुस्तक में न केवल गहन सस्पेंस है, बल्कि हास्य, प्रेम और भरोसेमंद भारतीय चरित्र भी हैं।  यह लेखक की 9वीं नावेल और कुल मिलाकर 11 वीं पुस्तक है। इससे पहले उनकी पुस्तक 'द गर्ल इन रूम 105' (The Girl in Room 105) थी।


 Title : वन अरेंजर्ड मर्डर (One Arranged Murder)

Author : चेतन भगत (Chetan Bhagat)

ISBN  : 9781542094139

Publisher: Westland Publications Limited

Year : 2020

Page : 314

 Order Online Buy it fromAmazon


 Book Lover Quotes in Hindi


 

Book Lover Quotes in Hindi



“बुद्धि के किताब में पहला अध्याय ईमानदारी है।”

- थॉमस जेफरसन


“किसी को समझना हो तो उसकी शेल्फ में लगी किताबो को देख लेना चाहिए, किसी की आत्मा समझनी हो तो उन किताबो में लगी अंडरलाइन को पढ़ना चाहिए ।”

- Divya Prakash Dubey


“जो बातें मैं जानना चाहता हूँ वो किताबों में हैं; मेरा परम मित्र वो आदमी होगा जो मुझे वो किताब देगा जो मैंने नहीं पढ़ा होगा।”

- अब्राहम लिंकन


“एक किताब, एक कलम, एक बच्चा और एक शिक्षक दुनिया बदल सकते हैं”

मलाला यूसुफजई


“कोई व्यक्ति, चाहे पुरुष हो या महिला, जिसे एक अच्छा उपन्यास पढने में आनंद ना आये, वो निश्चित रूप से बहुत मूर्ख होगा”

जेन ऑस्टेन


“आप बहुत पर्याप्त चाय की एक प्याली नहीं ला सकते या मेरे ऊपर फबने वाली एक लंबी किताब।”

- सी.एस.लेविस


“एक कुत्ते से अलग, एक किताब एक व्यक्ति की सबसे घनिष्ठ मित्र होती है। एक कुत्ते के अंदर पढ़ने के लिये ये बहुत ही अँधेरा है।"

- ग्रोउचो मार्क्स


“कोई भी किताब जो एक बच्चे को पढ़ने की आदत, अपनी गहरे और लगातार जरुरत में से एक पढ़ने को बनाने के लिये, उसके लिये अच्छा है।”

- माया एंजेलोउ


“शिक्षा के लिये कोई अंत नहीं है। ये ऐसा नहीं है कि आप एक किताब पड़ रहें हैं, परीक्षा पास होने के लिये, और शिक्षा के खत्म हो जायेगा। पूरे जीवन भर, उस पल से जब आप पैदा हुए और वो क्षण जब आप मरेंगे, सीखने की एक प्रक्रिया है।”

- जिद्दू कृष्णमूर्ति


“आदर्शत: एक किताब के पास कोई क्रम नहीं होता, और पढ़ने वाले को खुद इसे खोजना होगा।”

- मार्क त्वैन


“अगर किसी को एक किताब बार-बार पढ़ना खुशी नहीं दे सकता तो, उसको पूरा पढ़ने का कोई उपयोग नहीं है।”

- ऑस्कर विल्डे


“नैतिक और अनैतिक किताब के रुप में कोई चीज नहीं है। किताबें या तो अच्छे से लिखी होती है या बुरे से।”

- ऑस्कर विल्डे


“मैं ये बताने में अपमानित महसूस कर रहा हूँ कि, अमेरिका, एक किताब की बिक्री पूछताछ का विषय बन सकता है, और आपराधिक पूछताछ का भी।”

- थॉमस जेफरसन


“एक किताब दुनिया है, वो यात्रा नहीं करता जो केवल एक पन्ना पढ़ता है।”

- सेंट ऑगस्टाईन


“किताबें पूँजी का निर्माण करती है। एक लाइब्रेरी की किताब एक घर के जितना टिकाऊ होता है, सैकड़ों वर्षों के लिये। ये अब केवल उपयोग का एक सामान नहीं है बल्कि पूँजी की पर्याप्ता है, और पेशेवर इंसान की दशा में, जीवन में प्रयाण, ये उसकी केवल पूँजी है।”

- थॉमस जेफरसन


“ये मेरी महत्वकाँक्षा है कि मैं 10 वाक्यों में कहूँ जो लोग पूरी किताब में कहते हैं।”

- फ्रेडरिक नियेत्ज़े


“मैं किताब लिख रहा हूँ। मैंने पृष्ठ संख्या पूरी कर ली है।”

- स्टीवेन राइट


हर जली हुयी किताब दुनिया को रोशन करती है।”

- राल्फ वाल्डो एमर्सन


“किताब विक्रेता का सम्मान होना चाहिये क्योंकि हमारे ध्यान के लिये वो लाता है, एक नियम के रुप में, सच्चे किताब की हमें सबसे ज्यादा जरुरत होती है और सबसे ज्यादा उपेक्षा की जाती है।”

- कन्फ्यूशियस


“वो जिसने खुद को बनाया है बुद्धिमान है उससे जिसने एक किताब को बनाया है।”

- बेंजामेन फ्रेंकलिन


“मैं टीवी को बहुत शिक्षा देने वाला पाता हूँ। हर समय कोई चालू करता है, मैं दूसरे कमरे में जाता हूँ और एक किताब पढ़ता हूँ।”

- ग्रूचो मार्क्स


“एक किताब से ईमानदार मित्र कोई नहीं होता।”

- अर्नेष्ट हेमिंग्वे


“भोजन करना भूल जाईये अगर आपको करना है, लेकिन एक किताब को मत भूलिये।”

- जिम रॉन


“जो किताब आप नहीं पढ़ते वो आपकी मदद नहीं करता।”

- जिम रॉन


“हर किताब बच्चों की किताब है अगर बच्चा पढ़ सके।”

- मिच हेडबर्ग


“मैं आप से कह सकता हूँ, ईमानदार दोस्त, क्या भरोसा करने के लिये है: जीवन में भरोसा; वो किताब या वक्ता इसे बेहतर सिखाता है।”

- जोहॉन वोल्फगैंग वॉन गोअथे


“हमारे लिये एक जमें हुये सागर के लिये किताब एक कुल्हाड़ी है।”

- फ्रैंज काफका


“एक किताब अच्छा साथी है। बिना वाचालता के ये पूरी तरह संवाद से भरा है। पूरे निर्देश के साथ आपकी अभिलाषा के लिये ये आता है, लेकिन आपका कभी अनुसरण कभी नहीं करता।”

- हेनरी वार्ड बीचर


“मैंने ढ़ेर सारी अज्ञात किताबें पढ़ी है और एक किताब को खोलना बहुत अच्छा है।”

- बिल गेट्स


“एक भूखे इंसान के बीच के ये बहुत बड़ी बात है जो किताब पढ़ना चाहता है और एक थका हुआ इंसान जो पढ़ने के लिये एक किताब चाहता है।”

- गिलबर्ट के. चेस्टर्टन


“एक किताब कभी भी एक मास्टरपीस नहीं होती: ये एक बनता है। एक मरे हुये इंसान का कौशल है प्रतिभा।”

- कार्ल सैंडबर्ग


“भूखा इंसान, किताब के लिये पहुँचता है: ये एक हथियार है।”

- बेरटोल्ट ब्रेच


“एक किताब एक उद्यान है, एक बगीचा, एक स्टोरहउस, एक पार्टी, बहरहाल एक साथी है, परामर्शदाता है, परामर्शदाता का झुण्ड है।”

- चार्ल्स बौडेलेयर


“एक किताब को खत्म करना एक अच्छे दोस्त को छोड़ने के सामान है।”

- विलियम फीदर


“जब मेरे पास कम पैसे होते हैं तो मैं किताबें खरीदता हूँ, और अगर कुछ बचता है तो मैं खान और कपड़े लेता हूँ”

- डेजीडेरिअस इरेस्मस रोटेरोदमस


“मुझे तो किताबों कि गंध से भी प्यार है.”

- ऐड्रीऐना त्रैजियेनी


“बेशक मैं लोगों से अधिक किताबों से प्यार करता हूँ.”

- डायने सेटरफील्ड


“आप बिना कुछ सीखे किताब नहीं खोल सकते.”

- कन्फ़्यूशियस


“मेरी किताबें पानी की तरह हैं; और उन महान प्रतिभाओं की शराब की तरह. (सौभाग्यवश) सभी लोग पानी पीते हैं”

- मार्क ट्वैन


“किताब एक ऐसा उपहार है जिसे आप बार-बार खोल सकते हैं”

- गैरिसन किलर


“दुनिया एक किताब है और वो जो घूमते नहीं बस एक पेज पढ़ पाते हैं"

- औगसटीन


“फिक्शन वो सच्चाई दिखा देता है जो रियलिटी छिपा जाती है”

- जैस्मिन वेस्ट


“विज्ञान और धर्म एक दूसरे के खिलाफ नहीं हैं. बस विज्ञान अभी समझने के लिए बहुत छोटा है”

- डैन ब्राउन


“नई पुस्तकों के बारे में सबसे बुरी बात यह है कि वे हमें पुरानी पुस्तकें पढने से दूर रखती हैं”

- जोसफ जोबेर्ट


“मेरे सबसे अच्छा मित्र वो व्यक्ति है जो मुझे ऐसी किताब दे जो मैंने पढ़ी ना हो”

- अब्राहम लिंकन


“किताबें दर्पण की तरह हैं: यदि एक मूर्ख अन्दर देखता है तो आप किसी प्रतिभावान के बाहर देखने की उम्मीद नहीं कर सकते”

- जे.के. राउलिंग


“किताबों के बगैर घर खिड़कियों के बिना कमरे के सामान है”

- होरेस मैन


“पोषण, आश्रय और साहचर्य के बाद, कहानियां वो चीजें हैं जिनकी हमें दुनिया में सबसे ज्यादा ज़रुरत होती है”

- फिलिप पुलमैन


“यदि आपके पास एक बागीचा और पुस्तकालय है तो आपके पास वो सब कुछ है जो आपको चाहिए”

- मार्कस टुलीयस सिसरो


“अच्छी पुस्तकें अपना सार राज़ एक बार में नहीं बतातीं”

- स्टीफेन किंग


“बोलने से पहले सोचो. सोचने से पहले पढ़ो”

- फ्रैन लेबोवित्ज़


"यह नियम बना लीजिये; कभी किसी बच्चे को वो किताब नहीं दीजिये जो आप खुद नहीं पढेंगे”

- जॉर्ज बर्नार्ड शॉ


“किताबें परिपूर्ण मनोरंजन हैं: कोई विज्ञापन नहीं, कोई बैटरी नहीं, हर डॉलर के बदले घंटों का आनंद”

- स्टीफन किंग


“किताबें जलाने से भी बदतर अपराध हैं. उनमे से एक है उन्हें ना पढना.”

- जोसफ ब्रोड्स्की


“अपना तेज बनाये रखने के लिए जिस तरह तलवार को पत्थर की ज़रुरत होती है उसी प्रकार दिमाग को किताबों की”

- जॉर्ज आर.आर. मार्टिन


“किताबें पढने की दो वजहें हैं ; पहली, कि आप उसका लुत्फ़ उठा सकें ; दूसरा कि आप उसके बारें में डींगें हांक सकें”

- बेरट्रेंड रसेल


“किताब पढ़ना हमें एकांत में विचार करने की आदत और सच्ची ख़ुशी देता हैं”

- सर्वपल्ली राधाकृष्णन


“किताबें मित्रों में सबसे शांत और स्थिर हैं ; वे सलाहकारों में सबसे सुलभ और बुद्धिमान हैं, और शिक्षकों में सबसे धैर्यवान हैं”

- चार्ल्स विलियम एलियोट


“मैंने हमेशा कल्पना की है कि स्वर्ग एक तरह का पुस्तकालय है”

- जॉर्ज लुईस बोर्गेज


“बिना कुछ सीखे आप एक किताब नहीं खोल सकते।”


- कन्फ्यूशियस